जिस प्रकार खोलते पानी में छाया नहीं दिखती ,उसी प्रकार गुस्से में हमें सच्चाई नहीं दिखती… मीनाक्षी दीक्षित

0
24
Meenakshi-Quotes-15

391 total views, 10 views today

जिस प्रकार खोलते पानी में छाया नहीं दिखती ,

उसी प्रकार गुस्से में हमें सच्चाई नहीं दिखती …

मीनाक्षी दीक्षित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here